Theme :
Home
Granth
eBook
Saint
Yatra
Shanka
Health
Pandit Ji

एकादशी परिचय

  Views : 3551   Rating : 5.0   Voted : 15
Rate Article

प्रत्येक चन्द्र मास में दो एकादशी होती है. इस प्रकार एक वर्ष में 24 एकादशी होती है. जिस वर्ष में अधिमास होता है. उस वर्ष में 26 एकादशियां होती है.

एकादशी का शाब्दिक अर्थ चन्द मास की ग्यारहवीं तिथि से है. चन्द्र माह के दो भाग होते है. एक कृष्ण पक्ष और दुसरा शुक्ल पक्ष. दोनों पक्षों की ग्यारवीं तिथि एकादशी तिथि कहलाती है.

 

एकादशी के व्रत में दशमी के दिन केवल दिन में भोजन करना चाहिये,रात्रि में नहीं फिर अगले दिन एकादशी को व्रत करने के बाद अगले दिन द्वादशी को अन्न खाकर पारण करते है.जब एक ही दिन एकादशी द्वादशी और रात्रि के अंतिम प्रहर में त्रयोदशी भी हो तो उसे 'त्रिस्पृशा' समझना चाहिए.

यह त्रिस्पृशा का व्रत सौ करोड तीरथों से भी अधिक महत्वशाली होता है.
सभी एकदशियों के अलग-अलग नाम है. माह और पक्ष के अनुसार एकादशी व्रत का नाम रखा गया है. 

 

DISCLAIMER:Small effort to expression what ever we read from our scripture and listened from saints. We are sorry if this hurts anybody because information is incorrect in any context.
!! जय जय श्री राधे !!
Comments
2011-11-22 23:40:44 By Prayag Narayan Misra

Ekadashi Bhagwan Sri Krishna ko atyant priy hai, aisaa unhone DharmaRaj Yudhister ko bataayaa thaa. Bhim ne kaha ki ve varsh me sirf ek din binaa paani bhee piye upvaas kar sakte hain- isliye Nirjala Ekadashi ko Bhima Ekadashi bhee kahte hain. Ekadashi ke bahut laabh hain. Jay Shri Radhe!!

2011-11-21 12:52:16 By Kavita Thaker

thnk u krishna for i got this amaging site

2011-11-13 19:30:07 By Ajit Rathore

good

2011-08-31 00:53:07 By AJAY KUMAR

JAI SHRI RADHEY

2011-05-09 16:24:04 By

prabhu ka favourite day hai ekadashi mahino me kartik tatha purushottam or dino me ekadashi krishna ko sarvapriya hai jai shree radhe...

2011-04-09 10:07:07 By pankaj

nice article

2011-03-31 20:11:43 By Sunita singh Rathore

radhe radhe very nice site i love this

2011-03-14 00:48:17 By meenakshi

\'\' I also like this site very much.\"

2011-02-05 17:54:59 By surinder kumar

i love this site. thanks jai shri radhey, hare krishna

Enter comments


 
एकादशी
Last Viewed Articles
eBook Collection
सभी किताबे
राधा संग्रह
ग्रन्थ
कृष्ण संग्रह
व्रज संग्रह
व्रत कथाएँ
यात्रा
DISCLAIMER:Small effort to expression what ever we read from our scripture and listened from saints. We are sorry if this hurts anybody because information is incorrect in any context.
Copyright © radhakripa.in>, 2010. All Rights Reserved
You are free to use any content from here.