Home
Darbaar
Shanka
1M
GauSeva
Saint
eBook
Photo
Video
eSatsung
Pandit
Radio
Worship
Store
 
Hindi | English
सत्संग
मोह निवृति
 

Audio :

#Readers :

सब ये कथा जानते है कि एक बार नारद जी को मोह हो गया था और नारद जी को एक सुंदरी से विवाहकरने कि इच्छा  हुई और वो भगबान के पास आये  सुंदर रूप  के लिए. देखो भक्त हमेशा ही भगवान के पास आता है  इच्छा कुछ भी हो. भगवान के पास हमेशा दो रास्ते थे मोह निवृति और इच्छा पूर्ति, इच्छा पूर्ति तो संसार के लोगो के लिए, लेकिन मोह निवृति, भक्तो के लिए है.

 

सभी जानते है भगवान ने नारद जी को बंदर का चहरा बना दिया और अंत मे नारद जी की  बहुत हँसी हुई. लेकिन भगवान ने उनकी ब्रह्मत्व की लाज रखी और उन्हें मोह से बचाया. कहने का अभिप्राय यह की भगवान के पास भक्तो के लिए केवल और केवल मोह निवृति है. संसार की चीज़े तो आम जनता के लिए है.

"जय जय श्री राधे "

Comments
2011-12-25 20:02:48 By Ashwani Vashisht

Dar bar mein radha rani ke dukh dard mitaye jate hani.
duniya ke sataye log yahan sine se lagaye jate hain.
sansar sahi rahno ko yahan dukh dukh hain sahno ko yahan
bhar bhar ke piyale amrit ke yahan roj pilaye jate hain............

2011-08-20 18:27:55 By Gulshan Piplani

radhey radhey

2011-04-30 13:57:45 By ??? ???????

जय जय श्री राधे!

2011-04-16 14:28:44 By KAILASH CHANDRA SHARMA

BHAKTO KE LIYE MOH NIVRITI AUR SANSARIYON KE LIYE ICHKSHAPURTI .. VAH KYA KARUNA HAI .. KARUNANIDHAN KI... RADHE RADHE...

2011-03-04 14:41:14 By kishore kumar

jai jai shree radhey

2011-02-22 10:48:51 By vasundhara

Nice Article.. !!

Enter comments


 
Share
!! जय जय श्री राधे !!
 
 
श्रीमद्भागवत
ब्रज संग्रह
कृष्ण संग्रह
राधा संग्रह
स्त्रोत संग्रह
आरती संग्रह
रास पंचाध्यायी
गोपी गीत
शिक्षाएँ
भक्त चरित्र
ज्ञान
एकादशी
चैतन्य सन्देश
Copyright © radhakripa.com, 2010. All Rights Reserved
You are free to use any content from here but you need to include radhakripa logo and provide back link to http://radhakripa.com