Theme :
Home
Granth
eBook
Saint
Leelaye
Temple
Yatra
Jap
Video
Shanka
Health
Pandit Ji

दुनिया में सबसे आनंददायक क्या है ?हम ऐसा क्या करे कि हमारा आनंद सदा बना रहे ?

इस बारे में आपका क्या द्रष्टिकोण है ?

  Views :385  Rating :5.0  Voted :2  Clarifications :7
submit to reddit  
2644 days 15 hrs 41 mins ago By Gulshan Piplani
 

दुनिया में सबसे आनंद दायक है अपने कर्तव्यों का निष्ठापूर्ण निर्वाह करना, दूसरों के अधिकारों का ध्यान रखना| समस्त जीवों से प्रेम करना| उसके लिए सबसे पहले हमें अपने मुखोटे को उतार कर फेंक देना चाहिए| हम जैसे थे वैसे ही प्रतीत हों| निर्मल जल की तरह साफ,आनंद कि अनुभूति होने लगेगी | कृष्ण जी ने कहा है कि करोड़ों में कोई एक व्यक्ति मुझे प्राप्त होता है| और यह बात उन्होंने सत्युग में कही थी आज कलयुग में भी ऐसे व्यक्ति हैं जो ज्योतिमान हो चुके हैं या उसके आसपास कि स्थिति में हैं| परन्तु करोड़ों में एक| जब हम ऐसी ही चिंता में लगे रहते हैं कि मुझे तो ज्योतिमान होना है तो हम एक चाहत में बंद जाते हैं और अकर्म करने कि जगह कर्म में बंधते चले जाते हैं| तो न हम घर के रहते हैं न बाहर के| हम अपने कर्तव्यों का सत्यता द्वारा निर्वाह करते रहें| स्वम को अज्ञानी समझ कर ज्ञान प्राप्त करने हेतु हमेशा अपनी भूख बनाये रखें तो प्रभु कभी न कभी बेडा पार लगा ही देंगे| सर्वदा एक ही बंधन में नहीं फंसे रहना चाहिए| धर्म एक दिशा है उसके नियम जीवन को सरलता प्रदान करने हेतु ही बनाये गए हैं अपनी प्रवृति और कृति पर ध्यान दें बाकि प्रभु पर छोड़ दें अपने कर्तव्यों का निर्वाह करते रहें और बस राधे राधे जपता जा आगे आगे बढ़ता जा| - राधे राधे

2647 days 10 hrs 32 mins ago By Waste Sam
 

radhey radhey, duniya mein sabse anandmay aur raspoorna hai bhagwan ke bhakti, yeh woh anand hai jo kabhi kum nahi hota balki dino din badta hee rehta hai... anand ko sada banaye rakhne ke liye bhakti ka sahara lee.. jai shri radhey

2676 days 17 hrs 48 mins ago By Bhakti Rathore
 

jai shree radhe radhe duniya me subse annd dyak heapne east ko paa lenaunko apne man ki andko se delh panaaurunke schat dersn hona aur humra annd bana rahe iske ley unki bhjan aur bhakti kero man me humsha annd bana rahga jai shree radhe ra.dhe

2722 days 21 hrs 35 mins ago By Ravi Kant Sharma
 

जय श्री कृष्णा..... भगवान का सच्चिदानन्द (सत्य+चित्त+आनन्द) स्वरूप ही वास्तविक स्वरूप है।....... जिस व्यक्ति का चित्त अभ्यास द्वारा सदैव सत्य में ही स्थित रहता है, उस व्यक्ति के हृदय में ही भगवान का प्राकट्य आनन्द स्वरूप में होता है।.... तब बिन्दु स्वरूप जीवात्मा परमात्मा स्वरूप सागर में विलय होकर चिर स्थाई आनन्द को प्राप्त हो जाती है।

2723 days 7 hrs 59 mins ago By Mann Bisht
 

jai shree krishna ^_^

2723 days 21 hrs 3 mins ago By Aditya Bansal
 

radhey radhey

2723 days 21 hrs 3 mins ago By Aditya Bansal
 

prabhu ka bhajan sankirtan katha karte rehna chahiye....zarurat mand ki madad.....garibo ki sewa....kisi ki muh pe khusi lana....and facebook bhi hai

 
Tags :
Radha Blessings



Click here to know more about Radha Blessings
Article
Latest Video
Popular Opinion
Latest Bhav
Spiritual Directory


Today Top Devotee [0]

Today Opinion Topic

हम अधिक अनुशासित कैसे बने?

Radhakripa on Mobile

This Month Festivals

Guru/Gyani/Artist
Online Temple
Radha Temple
   Total #Visiters :1353
Baanke Bihari
   Total #Visiters :295
Mahakaal Temple
   Total #Visiters :
Laxmi Temple
   Total #Visiters :245
Goverdhan Parikrima
   Total #Visiters :353
Animated Leelaye
Maharaas Leela
   Total #Visiters :359
Kaliya Daman Leela
   Total #Visiters :
Goverdhan Leela
   Total #Visiters :
Utsav
Radha Ashtami
   Total #Visiters :
Krishna Janmashtami
   Total #Visiters :
Diwali Utsav
   Total #Visiters :245
Braj Holi Utsav
   Total #Visiters :
eBook Collection
सभी किताबे
राधा संग्रह
ग्रन्थ
कृष्ण संग्रह
व्रज संग्रह
व्रत कथाएँ
यात्रा
Copyright © radhakripa.com, 2010. All Rights Reserved
You are free to use any content from here but you need to include radhakripa logo and provide back link to http://radhakripa.com