Theme :
Home
Granth
eBook
Saint
Leelaye
Temple
Yatra
Jap
Video
Shanka
Health
Pandit Ji

पाप और पुण्य क्या है?

इस बारे में आपका क्या दृष्टिकोण है?

  Views :500  Rating :5.0  Voted :1  Clarifications :11
submit to reddit  
2673 days 2 hrs 24 mins ago By Waste Sam
 

radhey radhey, paap hai sastro mein diye nishid karmo ko karna jaise chori, hatya aadi aur punya hai sastro dwara nirdharit varna, ashram anusaar karma karna.. jai shri radhey

2676 days 16 hrs 47 mins ago By Jaswinder Jassi
 

*******कर्म बंधन कैसे होता है ****** इस धरती के सब जीव कर्म के बंधन में बंध कर बार बार जन्म लेते हैं ] जब जीव कर्म करता है तब उस को इस का भुगतान करने के लिए जन्म लेना ही परता है ] ये कैसे होता है इस के लिए एक मिसाल है ....... मान लीजिये के मै एक जंगल में हूँ और वहाँ एक शेर है जो काफी दिनों से भूखा है उस की हालत ऐशी है के उस को अगर कुस खाने को नही मिलता तो वो भूख से मर जायेगा , मै देखता हूँ के उस के साह्मने से एक गाये गुजर रही है और शेर उसे खाने को झपटने वाला है मै उस गाये को भगा देता हूँ जिस कारण गाये की जान बच जाती है मगर शेर भूखा मर जाता है ] अब सोचने की बात है के मै ने अशा किया जा बुरा किया पापकर्म किया या पुन कर्म किया ,अगर पाप कर्म कहता हूँ तो दूसरी तरफ पुन कर्म भी हुआ है , अगर पुन कर्म कहता हूँ तो दूसरी तरफ पाप कर्म भी हुआ है सो मै अशे बुरे पाप पुन के चक्र में बंध जाऊंगा और ये पाप और पुन्न का फल मुझे भुगतना परेगा इस के लिए मुझे एक जन्म गाये का मिलये गा और उस जन्म में गाये मनुष जन्म ले कर मुझे शेर से बचाएगी ,दूसरा जन्म मुझे शेर का मिल्येगा और उस जन्म में शेर मनुष जन्म में आ कर मुझे भूखा मारेगा इस तर्हे एक कर्म करने से दो जमन तो मुझे भुगतने परेगे ही और जब मै शेर के जन्म में हूँगा तो न जाने कितने जीवों की हत्या मुझ से होगी उन सभ का भी मुझे बार बार जन्म ले कर भुगतान करना परेगा ,ऐसे ये सिलसा बहुत लम्बा चलता रहेगा ] मै कर्मों के भुगतान के लिए बार बार जन्म लेता आया हूँ और लेता रहुगा ] जब तक मै इस कर्म बंधन से मुक्त नही होता ........] इस के लिए मुझे ब्रहम का गियान होना जरुरी है केवल ब्रहम गियानी ही कर्म बंधन से मुक्त होता है कियों के ब्रहम गियान की दृष्टि से वो जान जाता है के गाये भी ये आप है और शेर भी ये आप है और मुझ से कर्म करवाने वाला भी ये आप ही है मै ने कुस नही किया जैसी इस ने मुझे बुधि दी वैसा इस ने मुझ से कर्म करवा लिया ] जब मै ने कुस किया ही नही तो मै कर्म बधन से मुक्त हो जाता हूँ ] वैसे भी कर्म करने के लिए तीनो का होना बहुत जरुरी है .... तन्न मनं और बुधि ....और ये तीनो ही प्रभु की देन हैं ओर कही से nhi मिलते ] जैसी बुधि भगवान देता है वैसा ही मनं तन्न से कर्म करवाता है.] जीव के हाथ में कुस नही ] जब जीव ये समझता है के कर्म मै ने किया है तब्ब उसे उस कर्म का भुगतान बार बार जन्म ले कर करना परता है.. कर्मों का बंधन ही जन्मो का बंधन है ओर कुस नही. जब ये जाने मै कुस करता तब लग गर्भ जों में फिरता... जसविंदर जस्सी ***09023045778 *** जस्सी नारायण @ जीमेल.कॉम

2696 days 6 hrs 36 mins ago By Gulshan Piplani
 

पाप वोह जो याद रहे और पुण्य वोह जो याद नहीं रहे

2756 days 7 hrs 25 mins ago By Ravi Kant Sharma
 

जय श्री कृष्णा.... स्वयं के हित के लिये जो कुछ भी किया जाता है वह पाप होता है, और जो दूसरों के हित के लिये किया जाता है वह पुण्य होता है।

2760 days 4 hrs ago By Simridhi Bhatia
 

mata pita aur bhagwan ki drishti mei jo karya sahi hai wahi punya karyo mei aata hai.

2760 days 13 hrs 56 mins ago By Aditya Bansal
 

radhey radhey

2760 days 13 hrs 57 mins ago By Aditya Bansal
 

punya bhagwan ki tarah hai joy,shanti,pyaar,vishwas, prashanti, vinamratta, dayalu banna, kripa, sahanubhuti, udarta,sachai,yeh sab punya mein hai

2760 days 14 hrs ago By Aditya Bansal
 

in my opinion paap hai ek evil ke jaise gussa dushamni dukhi paschatap lalach , ghamand, vidvesh,jhut,apne app ko acha dikhana ego jo insaan ko insaan jaisa nhai bane rehne deta...

2760 days 14 hrs 5 mins ago By Aditya Bansal
 

Punya karna padta hai, paap apne aap ho jaata hai

2760 days 14 hrs 37 mins ago By Hariom Narayan
 

जो शास्त्र, सदगुरु और भगवान से सम्मत कार्य है वो पुण्य है और शास्त्र, सदगुरु और भगवान से असम्मत अर्थात उनके विरुद्ध कार्य पाप है...

2760 days 15 hrs 6 mins ago By Manish Nema
 

पाप वही है जो तुम्हे भी दुख दे और औरों को भी दुख दे। पुण्य वही है जो तुम्हे भी खुशी दे और औरों को भी खुशी दे।

 
Tags :
Radha Blessings



Click here to know more about Radha Blessings
Latest Article
Latest Video
Popular Opinion
Latest Bhav
Spiritual Directory


Today Top Devotee [0]

Today Opinion Topic

हम अधिक अनुशासित कैसे बने?

Radhakripa on Mobile

This Month Festivals

Guru/Gyani/Artist
Online Temple
Radha Temple
   Total #Visiters :1358
Baanke Bihari
   Total #Visiters :296
Mahakaal Temple
   Total #Visiters :
Laxmi Temple
   Total #Visiters :246
Goverdhan Parikrima
   Total #Visiters :355
Animated Leelaye
Maharaas Leela
   Total #Visiters :366
Kaliya Daman Leela
   Total #Visiters :
Goverdhan Leela
   Total #Visiters :
Utsav
Radha Ashtami
   Total #Visiters :
Krishna Janmashtami
   Total #Visiters :
Diwali Utsav
   Total #Visiters :246
Braj Holi Utsav
   Total #Visiters :
eBook Collection
सभी किताबे
राधा संग्रह
ग्रन्थ
कृष्ण संग्रह
व्रज संग्रह
व्रत कथाएँ
यात्रा
Copyright © radhakripa.com, 2010. All Rights Reserved
You are free to use any content from here but you need to include radhakripa logo and provide back link to http://radhakripa.com