Theme :
Home
Granth
eBook
Saint
Leelaye
Temple
Yatra
Jap
Video
Shanka
Health
Pandit Ji

ग्रहों का जीवन पर क्या असर होता है?

इस बारे में आपका क्या द्रष्टिकोण है?

  Views :697  Rating :5.0  Voted :2  Clarifications :12
submit to reddit  
2954 days 21 hrs 17 mins ago By Aditya Bansal
 

आपने देखा होगा कि कुछ लोग जो मिठा बोलते हैं, उन्हे अपने जीवन में बहुत सफलता प्राप्त होती हैं। ऐसे लोग सिर्फ अपनी बोली के कारण ही सफलता प्राप्त करते हैं। और वहीं कड़वा और तीखा बोलने वाले लोग कही न कहीं असफल हो ही जाते हैं। इसलिए कहा जाता है कि अगर सफल होना चाहते हो तो अच्छा बोलो और मीठा बोलो लेकिन क्यों सब लोग मीठा नहीं बोल पाते? क्यों कुछ लोग चाहते हैं कि वो साफ और कड़वा ना बोले पर ऐसा नही ही पाता

2957 days 20 hrs 32 mins ago By Waste Sam
 

radhey radhey, griho ka jeevan par sar nahi hai, par jeevan ke grih dasha aise hoti hai jaise humare karm.. jai shri radhey

2959 days 23 mins ago By Gulshan Piplani
 

ग्रहों का निर्माण ही मनुष्य को उसके संचित कर्मफल जो पक चुके होते हैं उनको फलीभूत करने हेतु हुआ है|  एक दोहा अपनी पुस्तक गुरु गीता से उद्धृत है:
होनी .तो .हो  कर  रहे, नहीं हाथ हमारे टाल|
आत्मा बुद्धि करे भ्रष्ट, गर गुरु न करे संभाल||

अर्थात गुरु उसके ताप को कम कर देता है| कई पंडित इन ग्रहों के ताप को कम करने के उपाय बताते हैं| पर समाप्त  वोह फलीभूत होने के पश्चात ही होते  है|

2959 days 16 hrs 27 mins ago By Ravi Kant Sharma
 

जय श्री कृष्णा

ग्रहों का असर मनुष्य के जीवन पर प्रारब्ध के अनुरूप ही पड़ता है, प्रारब्ध अतीत में किये गये कर्मों का फल होता है, प्रारब्ध को भोगने के लिये ही जीवात्मा को स्थूल शरीर की प्राप्ति होती है।

जो व्यक्ति ज्योतिषाचार्यों के माध्यम से वर्तमान जीवन के भविष्य में झांकने का प्रयत्न करते हैं वह वास्तव में अपने प्रारब्ध में हस्तक्षेप करते हैं। 

जो व्यक्ति अपने प्रारब्ध के साथ हस्तक्षेप करता है तो उस व्यक्ति के वर्तमान-कर्म स्वतः ही  बिगड़ जाते हैं। 

2959 days 16 hrs 49 mins ago By Diwakar Kushwaha
 

मेरे अनुसार गृह हमारे जीवन पर गहरा प्रभाव डालते है परन्तु यदि हम अछे कर्म करते है तो उनका ताप अवश्य कम हो जाता है जिस पर्कार हमारे जीवन में उतर चढाव आते है जो हमे सुख दुःख का अनुभव करवाते है उसी प्रकार गृह भी हम खट्टे मीठे अनुभव देते हैं लकिन यदि हम उनसे सीख लेकर जीवन को प्रभु के दिखाए मार्ग पर चलते है तो आनंद ही आनंद है -------------ॐ तत सत 


2959 days 17 hrs 27 mins ago By Rajender Kumar Mehra
 

जीव के जीवन पर इस ब्रह्माण्ड में बनी हर वस्तु का कुछ ना कुछ प्रभाव जरूर पड़ता है | ऐसे ही गृह भी हमारे जीवन को प्रभावित करते हैं | और हमारे प्रारब्ध को फलीभूत करवाते हैं |  यही ग्रहों का असर है  | प्रभु के शरणागत होने पर ग्रहों का असर न्यून हो जाता है ऐसा कई बार अनुभव किया गया है |......राधे राधे

2959 days 17 hrs 33 mins ago By Diwakar Kushwaha
 

मेरे अनुसार गृह हमारे जीवन पर गहरा प्रभाव डालते है परन्तु यदि हम अछे कर्म करते है तो उनका ताप अवश्य कम हो जाता है जिस पर्कार हमारे जीवन में उतर चढाव आते है जो हमे सुख दुःख का अनुभव करवाते है उसी प्रकार गृह भी हम खट्टे मीठे अनुभव देते हैं लकिन यदि हम उनसे सीख लेकर जीवन को प्रभु के दिखाए मार्ग पर चलते है तो आनंद ही आनंद है -------------ॐ तत सत 


2959 days 18 hrs 31 mins ago By Varun Veer Singh
 

bhagan kahte hai ki dukh main tum mujhe yaad karte ho to sukh main bhi mujhe kiya karo {Radhe Radhe}

2959 days 21 hrs 2 mins ago By Bhakti Rathore
 

राधे राधे   भगवान ने काह हे की मेरी शरण में आके सब गृह शांत हो जाते  हे राधे राधे

2959 days 21 hrs 24 mins ago By Pt Chandra Sagar
 

श्री कृष्ण की शरणागति लेने पर ग्रह भी अनुकूल हो जाते हैं :

तुलसीदास ने कहा है -
जानकीनाथ सहाय करै तब कौन बिगार करै नर तेरो |
 सूरज मंगल सोम भृगुसुत ,बुध अरु गुरु बरदायक तेरो 
  राहू केतु की नहीं गम्यता तुला शनिश्चर होय है चेरो ||
अर्थात क्रूर ग्रह भी आपके चेले बन जायेंगे , यहाँ ध्यान देने योग्य बात यह है की 
राहू -केतु,शनि ये सब देवता कहलाते हैं , और देवतायों का राजा है इंद्र , जब इंद्र 
की नहीं चली तो देवताओं का क्या सामर्थ की गोवेर्धन नाथ के सामने टिक सके |
इंद्र ने पूरी शक्ति लगायी जबकि ठाकुर ने केवल कनिष्ठ उंगली का ही प्रयोग 
किया , इसलिए गोविन्द की शरणागति का टिकट लो और निर्भय हो जायो |

2960 days 1 hrs 12 mins ago By Vipin Sharma
 

GRAHO KO DEVTA MANA JATA H, AGAR AISA H TO SOCHO KI DEVTA KABHI KISI KA BURA NAHI KAR SAKTE. TO FIR GRAH BURA KYUN KARTE HAIN................????


2960 days 1 hrs 13 mins ago By Vipin Sharma
 

GRAHON KA JIVAN PE KOI ASAR NAHI HOTA
JAISE KARM HUM KARTE HAIN VAISA HI FAL HAME MILTA RAHTA H.
SAB KUCH KARMO KE HISAAB SE HOTA H. 


 
Tags :
Radha Blessings



Click here to know more about Radha Blessings
Popular Article
Latest Video
Opinion Topic
Latest Bhav
Spiritual Directory


Today Top Devotee [0]

Today Opinion Topic

हम अधिक अनुशासित कैसे बने?

Radhakripa on Mobile

This Month Festivals

Guru/Gyani/Artist
Online Temple
Radha Temple
   Total #Visiters :1392
Baanke Bihari
   Total #Visiters :310
Mahakaal Temple
   Total #Visiters :
Laxmi Temple
   Total #Visiters :248
Goverdhan Parikrima
   Total #Visiters :360
Animated Leelaye
Maharaas Leela
   Total #Visiters :460
Kaliya Daman Leela
   Total #Visiters :
Goverdhan Leela
   Total #Visiters :
Utsav
Radha Ashtami
   Total #Visiters :
Krishna Janmashtami
   Total #Visiters :
Diwali Utsav
   Total #Visiters :248
Braj Holi Utsav
   Total #Visiters :
eBook Collection
सभी किताबे
राधा संग्रह
ग्रन्थ
कृष्ण संग्रह
व्रज संग्रह
व्रत कथाएँ
यात्रा
Copyright © radhakripa.com, 2010. All Rights Reserved
You are free to use any content from here but you need to include radhakripa logo and provide back link to http://radhakripa.com