Theme :
Home
Granth
eBook
Saint
Leelaye
Temple
Yatra
Jap
Video
Shanka
Health
Pandit Ji

जीवन में कर्म की क्या भूमिका हैं ?

इस बारे में आपका क्या द्रष्टिकोण है?

  Views :385  Rating :5.0  Voted :2  Clarifications :9
submit to reddit  
2470 days 21 hrs 23 mins ago By Vanshi Joshi
 

साईं इतना दीजिये, जा मे कुटुम समाय । मैं भी भूखा न रहूँ, साधु ना भूखा जाय ॥ धीरे-धीरे रे मना, धीरे सब कुछ होय । माली सींचे सौ घड़ा, ॠतु आए फल होय ॥ कबीरा ते नर अँध है, गुरु को कहते और । हरि रूठे गुरु ठौर है, गुरु रूठे नहीं ठौर ॥ माया मरी न मन मरा, मर-मर गए शरीर । आशा तृष्णा न मरी, कह गए दास कबीर ॥ रात गंवाई सोय के, दिवस गंवाया खाय । हीरा जन्म अमोल था, कोड़ी बदले जाय ॥ दुःख में सुमिरन सब करे सुख में करै न कोय। जो सुख में सुमिरन करे दुःख काहे को होय ॥

2483 days 9 hrs 51 mins ago By Neeru Arora
 

कर्म के बिना मनुष्य एक क्षण भी नहीं रह सकता और जीवन में भक्तुयुक्त कर्म करने का भगवन कृष्ण का उपदेश है| जय श्री कृष्ण

2490 days 12 hrs 55 mins ago By Waste Sam
 

radhey radhey, yadi hum bhagwad geeta ka ashray le toh samjh payenge ke karm ke bhumika humare jeevan mein bahut badi hai... bhagwan krishn ke vani bhagwad geeta yeh kehte hai ke apne varn ke anusaar hum karm kare bus faal bhagwan ke charoone mein samarpit kar de. hum insaan bina karm kiye nahi reh sakte isliye karm toh hum kare parantu shastro ke anusaar nishit kiye hue, jo humara marg darshan karte hai..jai shri radhey..

2491 days 22 hrs 31 mins ago By Aditya Bansal
 

सब कुछ कर्म हैं ! आप एक प्रश्न कर रहे हैं वह कर्म हैं;कर्म का अर्थ हैं कृत्य | और आपके प्रश्न को सुनना मेरा कर्म हैं | परन्तु आपके कर्म या प्रश्न का उत्तर देना की नहीं यह मेरा चुनाव हैं, समझ में आया ? सबकुछ कर्म हैं |

2493 days 23 hrs 13 mins ago By Vipin Sharma
 

KARM SE HI JIVAN BANTA HAI. JAISE KARM KAROGE AISE HI JIVAN CHALTEGA

2494 days 11 hrs 2 mins ago By Ravi Kant Sharma
 

जय श्री कृष्णा.... कर्म किये बिना कोई भी मनुष्य एक क्षण भी नहीं रहता है, कर्म स्वभाव के अनुरुप होते हैं।.... मानव जीवन में निष्काम भाव से किये जाने वाले-कर्मों की ही भूमिका होती है।.... निष्काम भाव के अतिरिक्त अन्य किसी भावना से जो भी कर्म होते हैं उन सभी कर्मों से मानव जीवन का दुरुपयोग ही होता है।

2494 days 12 hrs 53 mins ago By Rajender Kumar Mehra
 

जीवन में अगर कर्म ना हो तो जीवन है कहाँ सिर्फ मृत जीव ही कर्म नहीं करता जीवंत जीव को तो कर्म करना ही है | प्रमादी से प्रमादी व्यक्ति भी कर्म करता है उसे नित्य कर्म करने ही है शौच जाना है सांस लेना है भोजन करना है | ICU में पड़ा बीमार व्यक्ति भी कर्म में लीन रहता है सांस उसे लेना ही है आँखों को देखना ही है | कहने का तात्पर्य इतना है कि जीवन को चलाने के लिए कर्म इन्द्रियों द्वारा ही किये जाते हैं | कर्म है तो जीवन है और अगर कर्म नहीं तो जीवन भी नहीं यही कर्म की जीवन में भूमिका है | राधे राधे

2494 days 19 hrs 44 mins ago By Bhakti Rathore
 

radhe radhe kerm ke he anussar hume uska fal milta he ye mera manna he

2495 days 25 mins ago By Diwakar Kushwaha
 

Jeevan Me Karm Ke Wahi Bhoomika hai jo Sharir me Aatma Ki hoti Hai,jis Prakar Aatma Ke Bina Sharir nistez hai Waise he karm ke bina Manav jeevan Vyarth hai.

 
Tags :
Radha Blessings



Click here to know more about Radha Blessings
Popular Article
Latest Video
Popular Opinion
Latest Bhav
Spiritual Directory


Today Top Devotee [0]

Today Opinion Topic

हम अधिक अनुशासित कैसे बने?

Radhakripa on Mobile

This Month Festivals

Guru/Gyani/Artist
Online Temple
Radha Temple
   Total #Visiters :1302
Baanke Bihari
   Total #Visiters :277
Mahakaal Temple
   Total #Visiters :
Laxmi Temple
   Total #Visiters :239
Goverdhan Parikrima
   Total #Visiters :346
Animated Leelaye
Maharaas Leela
   Total #Visiters :285
Kaliya Daman Leela
   Total #Visiters :
Goverdhan Leela
   Total #Visiters :
Utsav
Radha Ashtami
   Total #Visiters :
Krishna Janmashtami
   Total #Visiters :
Diwali Utsav
   Total #Visiters :239
Braj Holi Utsav
   Total #Visiters :
eBook Collection
सभी किताबे
राधा संग्रह
ग्रन्थ
कृष्ण संग्रह
व्रज संग्रह
व्रत कथाएँ
यात्रा
Copyright © radhakripa.com, 2010. All Rights Reserved
You are free to use any content from here but you need to include radhakripa logo and provide back link to http://radhakripa.com